नई दिल्ली : जम्मू-कश्मीर में चल रहे पश्चिमी व्यवधान का असर शुक्रवार से ही दिखाई देने लगेगा। शुक्रवार देर शाम से दिल्ली में हल्के बादल दिखाई देने लगेंगे। वहीं हवा की दिशा में बदलाव होने लगे हैं। इसकी वजह से प्रदूषण का स्तर भी उस दिन अन्य दिनों की तुलना में अधिक रहेगा। शाम से ही यह धीरे-धीरे बढऩा शुरू हो गया है।
मौसम विभाग के अनुसार गुरुवार को राजधानी के न्यूनतम तापमान में गिरावट आई और यह सामान्य से एक डिग्री कम रहा। न्यूनतम तापमन महज 6 डिग्री रहा। लोदी रोड में 5.2, जफरपुर में 5.5 और नजफगढ़ में 6 डिग्री न्यूनतम तापमान दर्ज किया गया। अधिकतम तापमान 21.2 डिग्री रहा। मौसम विभाग के अनुसार पश्चिमी व्यवधान का पूरा असर शनिवार को होगा। दोपहर से ही घने बादल छाएंगे और रात में हल्की बारिश होगी जो रविवार को भी जारी रहेगी। इसके बाद मकर संक्रांति यानी 14 जनवरी को मौसम साफ होना शुरू हो जाएगा।
शुक्रवार को तापमान 22 और 7 डिग्री रह सकता है लेकिन मकर संक्रांति के बाद तापमान में फिर गिरावट आएगी। पहाड़ों से आ रही ठंडी हवा की वजह से दिल्ली में पिछले दो दिनों से प्रदूषण का स्तर कम है। फिर भी यह खराब स्थिति में चल रहा है। सीपीसीबी के एयर बुलेटिन के अनुसार दिल्ली का एयर इंडेक्स 292, फरीदाबाद में 236, गाजियाबाद में 298, ग्रेटर नोएडा में 291, गुडग़ांव में 196 और नोएडा में 290 रहा। सफर और आईएमडी के पूर्वानुमान के अनुसार शुक्रवार को प्रदूषण का स्तर कुछ बढ़ेगा। यह बेहद खराब स्थिति में जा सकता है लेकिन इसके बाद शनिवार और रविवार को यह फिर कम होगा और खराब स्थिति में ही रहेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here