नईदिल्ली: आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित कराने के प्रयास में चीन ने एक बार फिर अड़ंगा लगा दिया है. इसके बाद कांग्रेस ने गुरुवार को नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा. कांग्रेस ने आरोप लगाया कि एक बार फिर से ‘विफल मोदी सरकार की विफल विदेश नीति’ उजागर हुई.
वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी इस पूरे घटनाक्रम पर टिप्पणी की है. राहुल ने ट्वीट कर कहा कि – कमजोर मोदी, शी (चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग) से डरे हुए हैं. जब चीन भारत के खिलाफ कोई कार्रवाई करता है तो उनके मुंह से एक शब्द नहीं निकलता. चीन के लिए नमो की कूटनीति -1- गुजरात मेँ शी के साथ झूला झूलना, 2- दिल्ली में शी को गले लगाना, 3- चीन में शी के सामने झुकना.
इससे पहले कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट किया, आज फिर आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई को चीन-पाकिस्तान गठजोड़ ने आघात पहुंचाया है. आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में यह एक दुखद दिन है. उन्होंने कहा, 56 इंच वाली गले लगने की कूटनीति (हगप्लोमेसी) और झूला-झुलाने के खेल के बाद भी चीन-पाकिस्तान का जोड़ भारत को ‘लाल-आंख’ दिखा रहा है. एक बार फिर एक विफल मोदी सरकार की विफल विदेश नीति उजागर हुई.
वहीं राहुल गांधी के इस ट्वीट के जवाब में भारतीय जनता पार्टी ने भी ट्वीट किया है. राहुल के ट्वीट को रिट्वीट कर बीजेपी ने लिखा है – यूएनएससी में चीन नहीं होता अगर आपके नाना ने भारत की कीमत पर उन्हें उपहार नहीं दिया होता. भारत आपके परिवार की सभी गलतियों को ठीक कर रहा है. आश्वस्त रहें कि भारत आतंक के खिलाफ लड़ाई जीत जाएगा. इसे पीएम मोदी पर छोड़ दें और आप गुप्त रूप से चीनी दूतों के साथ मिलते रहें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here