सैन फ्रांसिस्को : आईओएस डिवाइसों में खुद को डिफाल्ट सर्च इंजन बनाए रखने के लिए गूगल ने एप्पल को ट्रैफिक अधिग्रहण लागत (टीएसी) के रूप में साल 2018 में कुल 9.5 अरब डॉलर का भुगतान किया, जिसने आईफोन निर्माता के सेवाओं से प्राप्त राजस्व में महत्वपूर्ण योगदान किया। गोल्डमैन सैक्स ने यह अनुमान लगाया है।
एप्पल चीन जैसे उभरते बाजारों में आईफोन की बिक्री में गिरावट कारण सेवाओं से प्राप्त राजस्व पर ध्यान दे रहा है। रिपोर्ट के मुताबिक, गूगल ने एप्पल को टीएसी के रूप में जो भुगतान किया और वह इस खंड में एप्पल के मुनाफे का एक तिहाई है।
गोल्डमैन सैक्स ने चेतावनी दी है कि गूगल द्वारा भुगतान किया गया शुल्क 2019 में भी एप्पल के सेवाओं के राजस्व में बड़ी भूमिका निभाएगी, लेकिन इसकी वृद्धि दर कम होगी। फर्म ने सलाह दी है कि अगर एप्पल को सेवा खंड में राजस्व को बढ़ावा देना है तो उसे गूगल को योगदान पर कम निर्भर रहना होगा। गूगल एप्पल जैसे डिवाइस निर्माताओं को टीएसी का भुगतान डिफॉल्ट सर्च इंजन बने रहने के लिए करती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here