बीसीसीआई को पीसीबी के साथ क्रिकेट में कोई आपत्ति नहीं है,कुछ मुद्दे हैं जिन्हें सरकार के स्तर पर सुलझाना पड़ेगा:राजीव शुक्ला
बीसीसीआई को पीसीबी के साथ क्रिकेट में कोई आपत्ति नहीं है,कुछ मुद्दे हैं जिन्हें सरकार के स्तर पर सुलझाना पड़ेगा:राजीव शुक्ला

नई दिल्ली: भारत और पाकिस्तान के बीच सीमा पर तनाव जारी है. पड़ोसी देश पाकिस्तान सीमा पर लगातार अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है जिसके कारण बीते कुछ सालों से भारत और पाकिस्तान के रिश्तों में खटास पैदा हो गई है. इसके कारण दोनों देशों के बीच होने वाली क्रिकेट पर प्रभाव पड़ा है. भारत ने पाकिस्तान के साथ द्विपक्षीय क्रिकेट खेलने से इनकार कर दिया है. वहीं, पाकिस्तान भारत के साथ क्रिकेट खेलने की मांग कर रहा है.

इस बीच भारत के रवैये के खिलाफ पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड आईसीसी के पास पहुंच गया है और उसने बीसीसीआई पर 70 मिलियन डॉलर यानी करीब 500 करोड़ रुपए देने का दावा किया है. इस मामले की सुनवाई सोमवार 1 अक्टूबर से आईसीसी के पास दुबई में शुरु हो रही है.

इस बीच आईपीएल के चेयरमैन राजीव शुक्ला और बीसीसीआई अध्यक्ष अनुराग ठाकुर ने इस बारे में बयान दिया है. राजीव शुक्ला ने इस बारे में बोलते हुए कहा है कि बीसीसीआई को पीसीबी के साथ क्रिकेट में कोई आपत्ति नहीं है लेकिन कुछ मुद्दे हैं जिन्हें सरकार के स्तर पर सुलझाना पड़ेगा.

मिडिया से बात करते हुए राजीव शुक्ला ने कहा, ‘जहां तक मेरी राय है तो बीसीसीआई और पीसीबी को अपने मसले खुद सुलझाने चाहिए न कि उन्हें आईसीसी के पास ले जाना चाहिए. बीसीसीआई तो पाकिस्तान के साथ क्रिकेट खेलना चाहता है लेकिन कुछ मुद्दे हैं और इसलिए बीसीसीआई को पाकिस्तान जाकर क्रिकेट खेलने के लिए सरकार की अनुमति चाहिए.’

आईसीसी में पीसीबी के बीसीसीआई पर दावा करने पर बोलते हुए राजीव शुक्ला ने कहा, ‘भारत ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर किसी भी आईसीसी टूर्नामेंट या एशियाई क्रिकेट काउंसिल के टूर्नामेंट में पाकिस्तान के खिलाफ खेलने से कभी इनकार नहीं किया है इसलिए पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड को पैसा देने का कोई सवाल नहीं उठता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here