शाह के खिलाफ सीतामढ़ी अदालत में देशद्रोह का मुकदमा दर्ज
शाह के खिलाफ सीतामढ़ी अदालत में देशद्रोह का मुकदमा दर्ज

सीतामढ़ी : बिहार के सीतामढ़ी की एक अदालत में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के सबरीमाला मंदिर वाले बयान को लेकर देशद्रोह का मुकदमा दर्ज किया गया है। शाह ने 27 अक्टूबर को केरल के कन्नूर में एक सभा को संबोधित करते हुए कहा था कि अदालत को भी ऐसे फैसले नहीं देने चाहिए जो लोगों की धार्मिक आस्था के खिलाफ हों और जिन्हें लागू न किया जा सके। बीजेपी अध्यक्ष का इशारा सबरीमाला मंदिर मुद्दे को लेकर सुप्रीम कोर्ट के फैसले की ओर था।
मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी सरोज कुमारी ने सामाजिक कार्यकर्ता ठाकुर चंदन सिंह द्वारा अमित शाह के खिलाफ आईपीसी की धारा 124 ए, 120 बी और 295 के तहत दायर उक्त परिवाद पत्र की सुनवाई की अगली तारीख आगामी 6 नवंबर तय किया है। अपनी शिकायत में सिंह ने शाह पर आरोप लगाया है कि उन्होंने सार्वजनिक रूप से सबरीमाला मंदिर को लेकर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का विरोध कर इस फैसले को कथित तौर पर चुनौती देकर न केवल लोगों की भावना को चोट पहुंचाया है बल्कि यह देश के संघीय और लोकतांत्रिक ढांचे पर हमला किया है।
शिकायतकर्ता ने आरोप लगाया है कि शाह ने उक्त बयान 2019 के आम चुनावों में राजनीतिक लाभ हासिल करने के लिए दिया और इस बयान से महिलाओं की भावना को भी चोट पहुंची है। बता दें कि केरल के कन्नूर में पार्टी कार्यालय का उद्घाटन करने पहुंचे बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने राज्य की लेफ्ट सरकार को घेरने से साथ ही सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश से जुड़े सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर भी सवाल उठाए थे। शाह ने कहा था कि सरकार और कोर्ट को ऐसे फैसले नहीं सुनाने चाहिए, जिनका पालन न करवाया जा सके और जो आस्था से जुड़े हों।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here