रायपुर: चुनावी दौरे पर छत्तीसगढ़ आये प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज बस्तर के जगदलपुर में आयोजित सभा में कहा कि हमारी सरकार किसी में भेदभाव नहीं करती है और सभी का हाथ थामें खड़ी है। श्री मोदी ने कहा कि आज बस्तर में जो विकास हुए है क्या पहले कभी हुए थे। सरकारें पहले भी थी, पैसे और योजनाएं पहले भी थी लेकिन उस समय कारोबार बिचौलियों के हाथों में था इसलिए नीचे तक कुछ नहीं पहुंचता था, जिसके कारण यहां विकास कभी नहीं हो पाया। लेकिन हमारी पार्टी ने बिचौलियों को समाप्त कर यहां विकास किया है।
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी छत्तीसगढ़ में प्रथम चरण में 18 सीटों पर होने वाले चुनाव के लिए बस्तर के 12 सीटों पर खड़े भाजपा के सभी प्रत्याशियों को मंच पर एक साथ बुलाकर जनता से आशीर्वाद मांगते हुए उन्हें जीताने का आव्हान किया। श्री मोदी ने कहा कि यह चुनाव सभा नहीं, धूप में खड़े हैं लोग ऐसा लग रहा है कि विकास की रेड़ी लगी आज जनसागर में परिवर्तित हो गई है।
श्री मोदी ने कहा कि पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव है और मुझे प्रारंभ मां दंतेश्वरी की चरणों से करने का सौभाग्य मिला है। उन्होंने कहा कि भाईदूज के पवित्र दिन पर माता-बहनों का आशीर्वाद मिला है। भाई दूज के दिन आज मैं आपसे मांगने आया हूं। उन्होंने कहा कि जब भी यहां कोई प्रधानमंत्री आया है उन सभी प्रधानमंत्री से में सबसे ज्यादा मैं आया हूं। श्री मोदी ने कहा कि जब भी मैं यहां आता हूं खाली हाथ नहीं आता हूं जिम्मेदारी लेकर आता हूं। बस्तर में आपके आकांक्षाओं और अपेक्षाओं के अनुकूल विकास की कोई न कोई नई योजना लेकर आता हूं। आपके बच्चों का उज्जवल भविष्य बने, आने वाले पीढ़ी दर पीढ़ी के लिए योजनाएं लेकर आता हूं। उन्होंने कहा कि बस्तर मेें फिर कोई कभी गरीबी इस तरफ मुंह न कर पाएं, ऐसा बस्तर बनाना है। यहां से बेराजगारी, गरीबी, भूखमरी इन सबको मिटाने के लिए हम लगातार प्रयास कर रहे हैं और इसी सिलसिले में मुझे बार-बार आपके बीच यहां आने का सौभाग्य मिलता है। श्री मोदी ने कहा कि हमारा दायित्व है और हमे जो आपने जिम्मेदारी दी है, उस जिम्मेदारी के तहत आपको कठिनाईयों से मुक्त करना, सुविधाएं बढ़ाते जाना, आपके सपनों को पूरा करने के लिए ऐसी व्यवस्थाएं विकसित करना कि आपका परिश्रम, आपका संकल्प आपकी सारी इच्छाएं पूरी करने माहौल बनाना है। यह काम हम लगातार करते आए हैं।
प्रधानमंत्री ने कहा कि आजादी के इतने साल के बाद पहले भी चुनाव होते थे, पहले भी यहां नेता आते थे, सरकारें पहले भी बनती थी, लेकिन उन सरकारों में मेरा-तेरा, अपना-पराया, मेरी जात, मेरे इलाके वाले, रिश्तेदार-परिवार सारा उनका कारोबार इसी के आसपास रहता था। आज भी इन दल के नेता हो, इन दलों का कार्यकलाप हो, अपने एक सीमित क्षेत्र की भलाई करना ही उनका उद्देश्य रहता है। ताकि उनका कुनबा बना रहे वोट की पेटियां भरती रहीं और उनकी दुनिया चलती रहे। हमने यह व्यवस्था बदल दिया है। हमारी सरकार किसी में भेदभाव नहीं करती, सभी का हाथ थामें खड़ी है। उन्होंने कहा कि सरकारें तो पहले भी होती थी लेकिन इतने सारे काम क्यों नहीं होते थे। कारण एक ही है पैसे पहले भी थे योजनाएं पहले भी थी लेकिन कारोबार बिचौलियों के हाथों में था। इसलिए नीचे कुछ पहुंचता नहीं था। हमारी पार्टी ने बिचौलियों को खत्म किया। जिसके बाद आपके हक का आपको मिल रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here