हमने तो मिठाई नहीं बांटी, पर राजीव ने सिखों के नरसंहार को शह दी थी : धरमलाल कौशिक
हमने तो मिठाई नहीं बांटी, पर राजीव ने सिखों के नरसंहार को शह दी थी : धरमलाल कौशिक

रायपुर: प्रदेश भारतीय जनता पार्टी ने गांधी हत्या के मामले में संघ और भाजपा का नाम घसीटने पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल को तल्ख अंदाज में आड़े हाथों लेते हुए कहा है कि सत्ता हासिल करने के लिए कांग्रेस के नेता अब एक बार फिर झूठ, फरेब, षड्यंत्र और नीचता की पराकाष्ठा कर रहे हैं।
प्रदेश भाजपा अध्यक्ष धरमलाल कौशिक ने शुक्रवार को बघेल के उस बयान पर कड़ा एतराज जताया कि भाजपा के नेता महात्मा गांधी की हत्या पर मिठाई बांटने वाले लोग हैं। कौशिक ने बघेल के जेल-बेल के खेल पर कटाक्ष करते हुए कहा कि दरअसल कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष बघेल और दीगर नेता खुद महात्मा गांधी के विचारों के हत्यारे बन बैठे हैं, जो सेक्स सीडी के लिए ‘सत्याग्रह‘ जैसे शब्दों का इस्तेमाल करके अपनी राजनीतिक बेहयाई का प्रदर्शन कर रहे हैं और महात्मा गांधी की शुचितापूर्ण राजनीतिक अवधारणा को कलंकित कर रहे हैं।
कौशिक ने कहा कि झूठ, फरेब और षड्यंत्र पर उतरी कांग्रेस 70 सालों से महात्मा गांधी की हत्या के मामले में अपने झूठ को भुनाने की नीचता का परिचय देती रही है और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ व भाजपा नेताओं को बदनाम करने के लिए इस झूठ की सवारी करती रही है। लेकिन महात्मा गांधी की हत्या में संघ पर एक भी आरोप सिध्द नहीं कर सकने वाली कांग्रेस खुद 1984 के इंदिरा गांधी हत्याकांड के बाद समूचे देश में सिखों के नरसंहार के कलंक की भागीदार रही है। तब तत्कालीन प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने भी यह कहकर कि ‘जब कोई बड़ा पेड़ गिरता है तो धरती हिलती है‘, इस नरसंहार को परोक्ष तौर पर शह देने का काम ही किया था।
भाजपा प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि पूरा देश जानता है कि इंदिरा-हत्याकांड के बाद हुए सिख-नरसंहार के मामलों में कांग्रेस के कई दिग्गज नेता तो दोषी तक सिध्द हुए हैं और घटना के सालों बाद देश के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह लोकसभा में माफी मांगकर कांग्रेस के पापों का प्रायश्चित करने की नाकाम कोशिश तक कर चुके हैं। हजारों-हजार आबाल वृध्द सिख नर-नारियों के कत्ले-आम की दोषी कांग्रेस के नेताओं को महात्मा गांधी हत्याकांड को लेकर झूठ बोलने में अब भी शर्म नहीं आ रही है, यह दुर्भाग्यपूर्ण है। वे झूठ-फरेब का जाल बुनकर अपने नीच कृत्यों को छिपाने का काम कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here