केंद्र ने बढ़ाई पीपीएफ, सुकन्या समृद्धि और एनएससी की ब्याज दरें

केंद्र ने बढ़ाई पीपीएफ, सुकन्या समृद्धि और एनएससी की ब्याज दरें

नई दिल्ली : छोटी बचत योजनाओं में निवेश करने वाले लोगों के लिए यह खुशखबरी है। केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (एनएससी) और पीपीएफ समेत कई छोटी सेविंग्स स्कीमों के लिए अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में ब्याज दर बढ़ा दी है। सभी स्कीमों पर 0.4 फीसदी तक का इजाफा किया गया है। छोटी सेविंग स्कीमों के लिए ब्याज दरों को तिमाही आधार पर संशोधित किया जाता है। पीपीएफ और एनएससी पर अब सालाना 8 फीसदी की दर से ब्याज मिलेगा।
वित्त मंत्रालय ने जारी अधिसूचना में कहा कि वित्त वर्ष 2018-19 की तीसरी तिमाही के लिए विभिन्न लघु बचत योजनाओं की ब्याज दरें संशोधित की जाती हैं। पांच साल के फिक्स्ड डिपॉजिट की सावधि जमा, आवर्ती जमा और वरिष्ठ नागरिक बचत योजना की ब्याज दरें बढ़ाकर क्रमश: 7.8 प्रतिशत, 7.3 प्रतिशत और 8.7 प्रतिशत कर दी गई हैं। हालांकि बचत जमा के लिए ब्याज दर चार प्रतिशत बरकरार है। पीपीएफ और एनएससी पर मौजूदा 7.6 प्रतिशत की जगह अब 8 प्रतिशत की सालाना दर से ब्याज मिलेगा।
किसान विकास पत्र पर अब 7.7 प्रतिशत की दर से ब्याज मिलेगा और अब यह 112 सप्ताह में परिपच् हो जाएगा। सुकन्या समृद्धि खातों के लिए संशोधित ब्याज दर 8.5 प्रतिशत होगी। एक से तीन साल की सावधि जमा पर ब्याज दर में 0.3 प्रतिशत की वृद्धि की गयी है।

मुंबई से जयपुर जा रहे जेट एयरवेज के विमान में सवार 30 यात्रियों के नाक-कान से गिरने लगा खून

मुंबई से जयपुर जा रहे जेट एयरवेज के विमान में सवार 30 यात्रियों के नाक-कान से गिरने लगा खून

मुंबई : जेट एयरवेज के विमान में उस वक्त अफरातफरी मच गई, जब गुरुवार सुबह मुंबई से जयपुर जा रही फ्लाइट में 30 यात्रियों के नाक और कान से खून निकलने लगा। असल में क्रू मेंबर केबिन प्रेशर मेंटेन करने वाले स्विच को दबाना ही भूल गए थे, जिसके चलते विमान के ऊंचाई पर पहुंचने से लोग हवा की कमी महसूस करने लगे। देखते ही देखते कुछ लोगों के नाक और कान से ब्लीडिंग होने लगी, जबकि तमाम लोग ऐसे थे, जिन्हें सिर दर्द होने लगा।
जेट एयरवेज के प्रवक्ता ने कहा, मुंबई से जयपुर जा रही फ्लाइट को आज इसलिए वापस बुलाना पड़ा क्योंकि केबिन प्रेशर कम हो गया था। 166 यात्रियों और 5 क्रू मेंबर्स समेत विमान को मुंबई में सामान्य ढंग से उतारा गया। सभी यात्री सुरक्षित हैं। जिन यात्रियों ने नाक और कान से ब्लीडिंग की शिकायत की थी, उन्हें फर्स्ट ऐड मुहैया कराया गया है।
प्रवक्ता ने कहा, क्रू को ड्यूटी से हटा दिया गया है और जांच का आदेश दिया गया है। यात्रियों के लिए वैकल्पिक फ्लाइट की व्यवस्था की जा रही है। विमान में कुल 166 यात्री सवार थे। मामला सामने आने पर विमान को तुरंत वापस मुंबई एयरपोर्ट उतारा गया। पीडि़त यात्रियों का मुंबई एयरपोर्ट इलाज किया जा रहा है।
इस मामले में उड्डयन महानिदेशालय ने बताया है कि घटना के सामने आने के बाद क्रू मेंबर्स को ड्यूटी से हटा दिया गया है और मामले की जांच का आदेश दिया गया है। एयरक्राफ्ट ऐक्सिडेंट इन्वेस्टिगेशन ब्यूरो ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

राज्य सरकार पर जमकर बरसे भूपेश बघेल

राज्य सरकार पर जमकर बरसे भूपेश बघेल

बिलासपुर-रायपुर: पीसीसी की नई कार्यकारिणी की बैठक आज बिलासपुर में संपन्न हुई। अपने उद्घाटन भाषण में पीसीस प्रमुख ने कहा कि हम सबको बड़ी जिम्मेदारी मिली है, इसे गंभीरता और ईमानदारी से निभाने की जरूरत है।
लाठीचार्ज का उल्लेख करते हुए पीसीसी प्रमुख श्री बघेल ने कहा कि कांग्रेस भवन प्रत्येक कार्यकर्ता के लिए मंदिर के समान है, मगर जिस तरह से निहत्थे कार्यकर्ताओं को पुलिस ने बर्बरता से पीटा है, वह शर्मनाक है, इसकी जितनी भी निंदा की जाए कम है। श्री बघेल ने कहा कि झीरमघाटी हमले के बाद भाजपा के हौसले बढ़े हुए हैं, इसलिए शहर के बीचोबीच कांग्रेसजनों पर हमला करवा दिया। इस लाठीचार्ज के पहले भी भाजपा को कोई झिझक महसूस नहीं हुई। बैठक में उपस्थित डा. चरणदास महंत ने कहा कि कांग्रेस भवन के अंदर घुसकर पुलिस द्वारा किए गए बर्बरतापूर्ण लाठीचार्ज किसी भी तरह से उचित नहीं कहा जा सकता, लिहाजा वे घटना का निंदा प्रस्ताव रख रहे हैं। श्री महंत के प्रस्ताव सर्वसम्मति से पारित किया गया। बैठक में प्रदेश के प्रभारी पीएल पुनिया, अयण उरांव चंदन यादव, नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव, पीसीसी प्रमुख भूपेश बघेल, कार्यकारी अध्यक्ष शिव डहरिया, वरिष्ठ नेता रविन्द्र चौबे सहित कांग्रेस के अन्य पदाधिकारी शामिल हुए।

डीआर कांगो में नाव डूबी, 27 लोगों के शव बरामद

डीआर कांगो में नाव डूबी, 27 लोगों के शव बरामद

मबंडाका: उत्तरी डीआर कांगो क्षेत्र में कांगो नदी की एक सहायक नदी में एक नाव के दुर्घटनाग्रस्त होने से कम से कम 27 लोगों के डूबने की आशंका है। माना जा रहा है कि कुछ अन्य लोग भी मारे गए हैं। नाव में करीब 60 लोग सवार थे। प्रांतीय गर्वनर अल्फा बेलो-नगवटा ने बताया, ‘रात में नाव के डूब जाने के बाद हमने मोंगला नदी से 27 शवों को बाहर निकाला।’
उन्होंने बताया, ‘अन्य शव अभी भी पानी में है। बचाव टीम उन्हें बरामद करने का प्रयास कर रही है।’ हालांकि, वह मरने वाले की सही संख्या के बारे में बताने में विफल रहे। दुर्घटना में बच गये जुनियर मोजोबो ने बताया कि दुर्घटनाग्रस्त नाव में करीब 60 लोग सवार थे जिसमें मुख्य रूप से व्यापारी और छात्र शामिल थे।
मोजोबो ने पहले से खराब स्थिति वाली नाव में क्षमता से अधिक लोगों को सवार करने और अंधेरे में इसे चलाने का आरोप लगाया। राजधानी किंशासा से करीब 1,500 किलोमीटर (900 मील) उत्तर पूर्व में हुए हादसे के बाद नाव का मालिक फरार हो गया। अधिकारी नाव मालिक की तलाश में हैं।

बैडमिंटन : चीन ओपन के क्वार्टर फाइनल में सिंधु

बैडमिंटन : चीन ओपन के क्वार्टर फाइनल में सिंधु

चांग्झू : भारत की अग्रणी महिला बैडमिंटन खिलाड़ी पी.वी. सिंधु ने अच्छा प्रदर्शन जारी रखते हुए गुरुवार को चीन ओपन के क्वार्टर फाइनल में प्रवेश कर लिया है। वर्ल्ड नंबर-3 सिंधु ने महिला एकल वर्ग के प्री क्वार्टर फाइनल में थाईलैंड की बुसाना को मात दी।
रियो ओलम्पिक की रजत पदक विजेता सिंधु ने एक घंटे और आठ मिनट तक चले इस मैच में बुसाना को 21-23, 21-13, 21-18 से मात देकर अंतिम-8 में जगह बनाई। सिंधु का सामना अब चर्टर फाइनल में दक्षिण कोरिया की सुंग जी ह्यून और चीन की चेन युफेई में से किसी एक खिलाड़ी से होगा।
उल्लेखनीय है कि साल 2016 में सिंधु ने इस खिताब पर कब्जा जमाया था और अब वह एक बार फिर इस टूर्नामेंट में खिताबी जीत से ज्यादा दूर नहीं हैं।

परिणीति हैं अर्जुन के लिये परफेक्ट दुल्हन!

परिणीति हैं अर्जुन के लिये परफेक्ट दुल्हन!

बॉलीवुड अभिनेता अर्जुन कपूर का कहना है कि उनकी दादी को लगता है कि परिणीति चोपड़ा उनके लिये परफेक्ट दुल्हान है।
अर्जुन कपूर की डेब्यू फिल्म ‘इशकज़ादे’ में अर्जुन और परिणीति की जोड़ी को खूब सराहा गया था। दोनो अब फिल्म नमस्ते इंग्लैंड में साथ नजर आयेंगे। अर्जुन बॉलीवुड के टॉप बैचलर्स में शुमार हैं। अर्जुन अभी खुद शादी के लिए तैयार नहीं हैं, लेकिन उनकी दादी पर्फेक्ट मैच ढूंढने में लगी हैं। हाल ही में अर्जुन की दादी ने फिल्म ‘नमस्ते इंग्लैंड’ का ट्रेलर देखा। दादी को अर्जुन और परिणीति की जोड़ी एकदम पर्फेक्ट लगी।
अर्जुन ने कहा, ‘नमस्ते इंग्लैंड’ का ट्रेलर देखने के बाद दादी ने कहा कि मेरे सभी को-स्टार्स में से मेरी जोड़ी सबसे ज़्यादा परिणीति चोपड़ा के साथ जंचती है। ऑन-स्क्रीन मैं परिणीति के साथ ज़्यादा अच्छा लगता हूं। दादी को लगता है कि रियल लाइफ में भी परिणीति मेरे लिए पर्फेक्ट दुल्हन है। फिल्म ‘नमस्ते इंग्लैंड’ वर्ष 2007 में रिलीज हुई फिल्म ‘नमस्ते लंदन’ का सीक्वल है। यह फिल्म 19 अक्टूबर को रिलीज होगी।

मानवाधिकार कार्यकर्ताओं के केस में सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा

मानवाधिकार कार्यकर्ताओं के केस में सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा

नई दिल्ली: भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में मानविधाकार कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुरक्षित रखा है। सुप्रीम कोर्ट ने महाराष्ट्र पुलिस और मानवाधिकार कार्यकर्ताओं, यानी दोनों पक्षों से सोमवार तक लिखित नोट दाखिल करने को कहा है। आपको बता दें कि मानवाधिकार कार्यकर्ताओं की तरफ से दाखिल अर्जी में इस मामले को मनगढ़ंत बताते हुए एसआईटी जांच की मांग की गई है।
किसी मराठी जानने वाले ने हिंदी नें लिखी चिट्ठी
गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट में इस मामले की सुनवाई शुरू हुई तो ऐक्टिविस्टों की तरफ से वरिष्ठ वकील आनंद ग्रोवर पेश हुए। ग्रोवर ने दलील दी कि पुलिस जिस लेटर का जिक्र कर रही है उसका कंटेंट हिंदी में है। ग्रोवर ने बेंच से कहा कि पुलिस कह रही है कि रोना विल्सन और सुधा भारद्वाज ने चिट्ठी लिखी है। उन्होंने आगे कहा कि कंटेंट से साफ जाहिर होता है कि किसी मराठी जानने वाले ने हिंदी में चिट्ठी लिखी है। ग्रोवर ने कहा कि इस आधार पर यह मामला फर्जी लगता है।
किसी भी एफआईआर में चिट्ठी का जिक्र नहीं: अभिषेक मनु सिंघवी
मानवाधिकार कार्यकर्ताओं की तरफ से पेश हुए ऐडवोकेट अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि पुलिस के ट्रांजिट रिमांड में भी लेटर का जिक्र नहीं है। जिस माओवादी प्लॉटिंग का जिक्र किया जा रहा है उसका कोई रिकॉर्ड कोर्ट में पेश नहीं किया गया। सिंघवी ने कहा कि पुलिस ने मीडिया के सामने लेटर दिखाया कि पीएम की हत्या की साजिश है पर किसी भी एफआईआर में इसका जिक्र नहीं है।
एसआईटी की मांग गैरजरूरी: हरीश साल्वे
इस मामले में एफआईआर कराने वाले शख्स की तरफ से वकील हरीश साल्वे पेश हुए। साल्वे ने कहा कि अगर इस तरह से ऐक्टिविस्टों की गुहार को स्वीकार कर लिया जाएगा तो इसका मतलब यह होगा कि हम न तो एनआईए न सीबीआई और न ही पुलिस पर विश्वास रखते हैं। इस मौके पर एसआईटी पर मांग अवांक्षित और गैर जरूरी है।
चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा ने महाराष्ट्र सरकार की तरफ से पेश हुए अडिशनल सॉलिसीटर जनरल तुषार मेहता से कहा कि पूरी केस डायरी कोर्ट के सामने पेश करे। तुषार मेहता ने इससे पहले दलील दी थी कि पीआईएल के जरिए क्रिमिनल इन्वेस्टिगेशन में दखल नहीं हो सकता। वहीं तीन सदस्यीय बेंच के जस्टिस चंद्रचूड़ ने तुषार मेहता से सवाल किया कि मीडिया के पास वह लेटर कहां से आया। तुषार मेहता ने कहा कि पुलिस ने सिर्फ लेटर का जिक्र किया था।
बहरहाल सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है। आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट कोर्ट इस मामले में वरवरा राव, अरुण फरेरा, वरनान गोन्साल्विज, सुधा भारद्वाज और गौतम नवलखा की गिरफ्तारी को चुनौती देने वाली याचिकाओं पर सुनवाई कर रहा है। पिछले साल 31 दिसंबर को ऐल्गर परिषद के बाद कोरेगांव-भीमा में हुई हिंसा के सिलसिले में दर्ज प्राथमिकी के आधार पर महाराष्ट्र पुलिस ने इन पांच लोगों को नक्सल लिंक के आरोप में 28 अगस्त को गिरफ्तार किया था।