केन्द्र में कांग्रेस सरकार बनी तो राज्य के विकास का मार्ग होगा प्रशस्त : शैलेश नितिन त्रिवेदी

रायपुर: पीसीसी महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा राज्य की कांग्रेस सरकार गांव, गरीब, किसान, मजदूर वर्ग के हित में काम करने के लिए प्रतिबद्ध है। केन्द्र में नई सरकार बनाने के लिए हो रहे चुनाव से प्रदेश का भाग्य भी बदलने वाला है। क्योंकि राज्य की कांग्रेस द्वारा सरकार शुरू की गई योजनाओं व कार्यक्रमों का भविष्य भी केन्द्र सरकार की नीतियों पर निर्भर रहेगा। श्री त्रिवेदी ने कहा कि केन्द्र में कांग्रेस सरकार बनने पर श्री बघेल की सरकार को काम करने के लिए और ताकत मिलेगा। छत्तीसगढ़ की नवगठित कांग्रेस सरकार ने पिछले तीन महीनों में लिए गए अपने निर्णयों से यह स्पष्ट कर दिया है कि राज्य की कांग्रेस सरकार गांव, गरबों, मजदूरों और किसानों के हित में काम करने के लिए तत्पर है। राज्य सरकार इनके साथ ही साथ उद्योगपतियों और कारोबारियों की हितार्थ और राज्य की अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने के लिये काम कर रही है। उन्होंने कहा कि केन्द्र की मोदी सरकार का रवैया छत्तीसगढ़ के प्रति सौतेला रहा है और इसीलिए आवश्यक है कि केंद्र में भी सत्ता परिवर्तन हो और कांग्रेस की सरकार आए, जिससे मनरेगा से लेकर राज्य को चावल आवंटन तक और न्याय योजना लागू होने से लेकर कोल ब्लॉकों के राजस्व तक हर मामले में छत्तीसगढ़ की जनता के साथ अन्याय न हो। श्री त्रिवेदी ने कहा कि यदि गलती से भी मोदी सरकार लौटकर आई तो छत्तीसगढ़ के निवासियों की खुशियों और सपनों पर कुठाराघात होगा। उन्होंने कहा कि सर्वाधिक दुर्भाग्यपूर्ण यह है कि राज्य में भारतीय जनता पार्टी की सरकार होने के बावजूद केंद्र की भारतीय जनता पार्टी की सरकार राज्य के साथ भेदभाव करती रही। भाजपा की रमन सिंह सरकार में छत्तीसगढ़ में गरीबी और गरीब बढ़ते रहे और मोदी सरकार लगातार गरीब विरोधी फैसले लेती रही। केन्द्र में कांग्रेस की सरकार बनने से छत्तीसगढ़ के विकास का मार्ग निश्चित रूप से प्रशस्त होगा।

मायावती के प्रचार पर बैन हटाने से सुप्रीम कोर्ट का इनकार

नई दिल्ली : सुप्रीम कोर्ट ने बसपा सुप्रीमो मायावती को करारा झटका देते हुए उनकी अर्जी खारिज कर दी है। मायावती ने चुनाव आयोग द्वारा उन पर लगाए गए 48 घंटे के प्रतिबंध के खिलाफ अर्जी दाखिल की थी जिस पर अदालत ने सुनवाई करने से इनकार कर दिया।
मायावती की ओर से पेश दुष्यंत दवे ने दिन में प्रस्तावित महत्वपूर्ण बैठकों का हवाला देते हुए अदालत से उनकी दलील सुनने का आग्रह किया था, जिसे अदालत ने ठुकरा दिया। अदालत ने कहा कि अगर आप व्यथित हैं तो अलग से एक याचिका दाखिल करें।
बता दें सोमवार को योगी और मायावती पर प्रचार करने पर बैन लगा दिया। ये दोनों प्रतिबंध 16 अप्रैल से लागू होंगे। योगी 72 घंटे तक प्रचार नहीं कर सकेंगे। इसी तरह मायावती पर 48 घंटे के लिए प्रतिबंध लगा दिया। मायावती ने सोमवार देर रात बाकायदा लखनऊ में प्रेस कॉन्फ्रेंस करके चुनाव आयोग के फैसले का विरोध किया और कहा कि बिना उनका पक्ष जाने आयोग ने उन पर बैन लगाया, जो कि गलत है।
गौरतलब है कि आगरा में मंगलवार को गठबंधन की रैली हो रही है जिसमें बसपा सुप्रीमो मायावती, सपा प्रमुख अखिलेश यादव और आरएलडी प्रमुख अजित सिंह शामिल होने वाले थे। लेकिन चुनाव आयोग के आदेश के बाद मायावती शायद ही रैली में शामिल हो पाएं।

हनुमान मंदिर में पूजा अर्चना के बाद राजनाथ ने निकाला रोड शो

लखनऊ : केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को अपना नामांकन करने से पहले लखनऊ के हनुमान सेतु मंदिर में पूजा-अर्चना की। इसके बाद वह भाजपा प्रदेश मुख्यालय पहुंचे।
उन्होंने पार्टी कार्यालय में अपने संबोधन में कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में भारत आगे बढ़ रहा है। राजनाथ ने कहा कि देश को आगे बढ़ाने में मोदी ने करिश्माई काम किया है। सार्वजनिक सभाओं में उनका आकर्षण देखने को मिल रहा है। चाहे केरल हो या कर्नाटक हर जगह लोग उन्हें सुनने के लिए आ रहे हैं।
राजनाथ ने कहा, यहां का प्रत्याशी हूं। मुझे ज्यादा बोलने की जरूरत नहीं है। मैं लखनऊवासियों को जानता हूं। वे मुझे जानते हैं। मुझे विश्वास है कि वे मुझे दोबारा सेवा करने का अवसर प्रदान करेंगे। राजनाथ ने पार्टी कार्यालय से अपने रोड शो की शुरुआत की। जिसके लिए लखनऊ स्थित भाजपा मुख्यालय में भारी संख्या में कार्यकर्ता आए हुए हैं।
राजनाथ सिंह के अलावा मोहनलालगंज से भाजपा अनुसूचित मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष कौशल किशोर भी नामांकन दाखिल करेंगे। भाजपा के इन उम्मीदवारों के नामांकन के दौरान उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, डॉ. दिनेश शर्मा सहित कई मंत्री और भाजपा के पदाधिकारी मौजूद रहेंगे।
राजनाथ सिंह का रोड शो भाजपा दफ्तर, हजरतगंज चौराहा, डीएम आवास होते हुए जिलाधिकारी कार्यालय तक जाएगा। इस दौरान भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष महेंद्रनाथ पांडेय, पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी, मंत्री ब्रजेश पाठक, सांसद कलराज मिश्र, जेडीयू के महासचिव केसी त्यागी भी मौजूद हैं।

बसपा प्रमुख मायावती का कल जांजगीर में आमसभा

जांजगीर-रायपुर: बहुजन समाज पार्टी प्रमुख मायावती पार्टी और उम्मीदवारों का प्रचार करने के लिए कल प्रदेश प्रवास पर आ रही हैं।
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बसपा प्रमुख सुश्री मायावती सुबह 11.40 बजे लखनऊ से चार्टर प्लेन से रायपुर पहुंचेगी। रायपुर से वे सीधे हेलीकॉप्टर से जांजगीर के लिए प्रस्थान करेंगी। जांजगीर के खोखराभांठा हेलीपेड में दोपहर 12.15 बजे पहुंचेगी। प्रोटोकॉल के अनुसार इसके पश्चात वे सडक़ मार्ग से जांजगीर के शासकीय हाईस्कूल मैदान में आयोजित बहुजन समाज पार्टी की चुनावी सभा को दोपहर 12130 बजे से 1.30 बजे तक सम्बोधित करेंगी। सभा के बाद वापस हेलीकॉप्टर से माना विमानतल पहुंचकर दोपहर 2.20 बजे लखनऊ के लिए निजी विमान से लौट जाएंगी। बसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती लोकसभा चुनाव के दौरान जांजगीर सहित प्रदेश के 11 लोकसभा सीटों को बसपा व जनता कांग्रेस गठबंधन के संयुक्त प्रत्याशियों को जीतने वोट देने की अपील करेंगी। 14 अप्रैल 1984 को बसपा की स्थापना का 35 वां साल भी पूरा हो रहा है। वहीं बसपा के संस्थापक कांशीराम ने पहली बार जांजगीर लोकसभा से 1984 में चुनाव लडक़र बसपा को प्रगति के पथ पर अग्रसर किया था।

मोदी है तो सब मुमकीन है : योगी आदित्यानाथ

जांजगीर-चांपा : जिले मे आज भाजपा के स्टार प्रचारक और यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लोक सभा के चुनाव मे भाजपा के प्रचार के लिए पहुॅचे। इस दौरान योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस पार्टी और राहुल गांधी पर जमकर निशाना साधा। मंच से अपने संबोधन के दौरान योगी आदित्यनाथ ने कहा कि विश्व पटल मे अगर देश का नाम आजादी के बाद आगे बढ़ाने का काम किसी ने किया है तो वो नरेन्द्र मोदी है। उन्होंने कहा कि जिन्हे पता नही उन्हे यह बताने की जरूरत है कि नरेन्द्र मोदी प्रधान मंत्री के लिए पहली पसंद क्यों हैं। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कांगेस पार्टी जब राम और कृष्ण के अस्तित्व पर सवाल उठाती है तो राहुल गांधी को मंदिर मंदिर घूमने से क्या फायदा। योगी आदित्य नाथ ने कांग्रेस की सोच पर सवाल उठाते हए कहा कि मनमोहन सिंह कहते थे कि इस देश के संसाधनों पर पहला अधिकार मुसलमानों का है तो इस देश गरीब, आदिवसी, दलीत कहॉ जाएगा? योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस पर हमलावर होते हुए कहा कि जब से छत्तीसगढ़ मे कांग्रेेस की सरकार आई है प्रेदश मे नक्सलवाद, भू-माफिया, खनन माफिया और अराजकता हावी हो गई है। यहॉ उन्होंने कांग्रेस पार्टी को अतर्राष्ट्रीय, राष्ट्रीय और आंतरिक मुद्दों पर जमकर घेरा। उन्होंने कहा कि आज हालात है ऐसे बन गये है कि यह कहाना पड़ रहा है कि कांग्रेस का हाथ देश द्रोहियों के साथ। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि मोदी सरकार के ने पॉच वर्ष के कार्यकाल मे की गई उपलबिधयों को गिनाते हुए कहा कि पहले जो नामुमकीन था वो आज मोदी की वजह से मुमकीन हुआ।

भाजपा के पक्ष में प्रचार करने पहुंचे केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह

रायपुर: भाजपा के पक्ष में प्रचार करने के लिए आज केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह एक दिवसीय दौरे पर छत्तीसगढ़ पहुंच गए हैं। यहां विमानतल पर भाजपा नेताओं से संक्षिप्त मुलाकात के बाद वे सीधे बसना के लिए रवाना हो गए हैं।
सूत्रों ने बताया कि केन्द्रीय मंत्री राजनाथ सिंह के तय कार्यक्रम के अनुसार वे आज दशहरा मैदान बसना जिला महासमुंद में एक आमसभा को संबोधित करेंगे। इसके पश्चात वे हाई स्कूल ग्राउंड नगरी जिला धमतरी के लिए प्रस्थान करेंगे । जहां दोपहर 2.30 बजे हाई स्कूल ग्राउंड नगरी जिला धमतरी में आयोजित आमसभा को संबोधित करेंगे। 3.20 बजे हाई स्कूल नगरी से वैशाली नगर जिला दुर्ग के लिए प्रस्थान कर शाम 4.05 बजे वैशाली नगर पहुचेंगे। जहां शाम 4.15 बजे वैशाली नगर में आयोजित आमसभा को संबोधित करेंगे। शाम 5.00 बजे वैशालीनगर दुर्ग से स्वामी विवेकानंद एयरपोर्ट प्रस्थान कर शाम 5.35 बजे स्वामी विवेकानंद एयरपोर्ट पहुंचेंगे। यहां विमानतल पर भाजपा के स्थानीय नेताओं से चर्चा और भेंट-मुलाकात के बाद वे शाम 5.45 बजे दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगे।

राहुल गांधी ने अमेठी से भरा नामांकन

अमेठी: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज नामांकन पत्र दाखिल किया। रास्ते में तीन किमी लंबे इस रोड शो के दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने फूल और मालाओं के साथ राहुल गांधी का जोरदार स्वागत किया। राहुल गांधी, प्रियंका और रॉबर्ट वाड्रा ने हाथ हिलाकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं का अभिवादन किया।
रोड शो के रास्ते को कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस झंडों और फूल-मालाओं से भर दिया था। अमेठी में जश्न जैसा माहौल रहा। रोड शो के बाद राहुल गांधी ने कलेक्ट्रेट कार्यालय में अपना पर्चा दाखिल किया। इस दौरान सोनिया गांधी, प्रियंका गांधी, रॉबर्ट वाड्रा भी मौजूद रहे। बता दें कि अमेठी में छह मई को वोट डाले जाएंगे। राहुल गांधी के रोड शो में प्रियंका गांधी और रॉबर्ट वाड्रा का जाना पहले से ही तय था, लेकिन इस तरह प्रियंका गांधी और रॉबर्ट वाड्रा के बेटा-बेटी की लॉन्चिंग चौंकाने वाला था। पूरे रोड शो में रेहान और मिराया ट्रक पर मौजूद रहे और उन्होंने लोगों का अभिवादन किया। अमेठी की सडक़ों पर कांग्रेस कार्यकर्ता 72 हजार के झंडों के साथ पहुंचे हैं। झंडों पर न्याय योजना के बारे में छपा हुआ है और 72 हजार लिखा है।

बसपा ने लोकसभा के 5 और प्रत्याशी घोषित किए

लखनऊ : बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने आगामी लोकसभा चुनाव के लिए उत्तर प्रदेश की पांच और सीटों पर प्रत्याशियों की घोषणा की है। बसपा ने मंगलवार को घोषित अपनी तीसरी सूची में धौरहरा से अरशद अहमद सिद्दीकी, सीतापुर से नकुल दुबे, मोहनलाल गंज से सी.एल. वर्मा, फतेहपुर से सुखदेव वर्मा और कैसरगंज से चन्द्रदेव राम यादव को चुनाव मैदान में उतारा है।
बसपा इससे पहले 17 लोकसभा प्रत्याशियों की घोषणा कर चुकी है। गौरतलब है कि बसपा इस बार प्रदेश में समाजवादी पार्टी (सपा) के साथ गठबंधन करके 38 सीटों पर चुनाव लड़ रही है। इस गठबंधन में राष्ट्रीय लोक दल (रालोद) भी शामिल है। गठबंधन ने रायबरेली और अमेठी से प्रत्याशी नहीं उतारने की घोषणा की है।
संयुक्त प्रगतिशील गंठबंधन (संप्रग) अध्यक्ष सोनिया गांधी राय बरेली से तथा कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अमेठी से सांसद हैं।

दिल्ली में कांग्रेस-आप का गठबंधन लगभग तय

नईदिल्ली : लंबे समय से चल रही हां और ना के बीच आखिरकार दिल्ली में कांग्रेस और आम आदमी पार्टी (आप) के बीच गठबंधन पर सहमति बन गई है.सीटों का बंटवारा भी हो गया है. कांग्रेस और आप दोनों ही पार्टियां 3-3 सीटों पर चुनाव लड़ेंगी, जबकि एक सीट पर दोनों पार्टियां सहमति से अपना उम्मीदवार उतारेंगी.
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस मुद्दे पर आज अहम बैठक बुलाई थी. बैठक में राहुल गांधी ने पूछा कि गठबंधन के बिना कांग्रेस कितनी सीटें जीत सकती है? जिस पर पीसी चाको ने कहा सभी सीटों पर जीतने के संभावना है. क्योंकि वोट बीजेपी उम्मीदवार के खिलाफ डलेगा. जिसके बाद राहुल गांधी ने गठबंधन को लेकर सकारात्मक संकेत दिए.
कांग्रेस के दो बड़े नेता गुलाम नबी आजाद और अहमद पटेल, दिल्ली हरियाणा और पंजाब में आप के साथ गठबंधन को लेकर संपर्क में हैं. 11 अप्रैल को सीईसी की बैठक है जिसके पहले गठबंधन पर ऐलान संभव है.
गौरतलब है कि दिल्ली और हरियाणा में 12 मई को मतदान होना है, ऐसे में दोनों ही राज्यों में आप और कांग्रेस में गठबंधन हो तो राजनीति नजरिये से भी कोई ताज्जुब की बात नहीं होगी.

पूनम सिन्हा केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह के खिलाफ लड़ेंगी चुनाव

लखनऊ: अभिनेता से नेता बने शत्रुघ्न सिन्हा की पत्नी पूनम सिन्हा केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह के खिलाफ यहां से चुनाव लड़ेंगी. विश्वस्त सूत्रों के मुताबिक, पूनम सिन्हा समाजवादी पार्टी के टिकट पर बहुजन समाज पार्टी के समर्थन से इस सीट से चुनाव लड़ेंगी. कांग्रेस के सूत्रों ने कहा कि पार्टी ने लखनऊ से किसी भी उम्मीदवार को नहीं उतारने और सिन्हा को समर्थन देने का निर्णय लिया है. इससे राजनाथ सिंह और पूनम सिन्हा के बीच सीधे टक्कर होने का मार्ग प्रशस्त हो गया है.

सूत्रों ने कहा कि इस संबंध में बात चल रही थी और इसी वजह से दिल्ली में शत्रुघ्न सिन्हा के 28 मार्च को कांग्रेस में शामिल होने का कार्यक्रम टाल दिया गया. कांग्रेस के एक नेता ने कहा, “जितिन प्रसाद लखनऊ से चुनाव लड़ना चाहते थे और लेकिन उन्हें अपने संसदीय क्षेत्र धौरहरा के लिए राजी होना पड़ा. जिसके बाद सबकुछ स्पष्ट हो गया है और लखनऊ उन सात सीटों में शामिल होगा, जिसके बारे में कांग्रेस ने कहा था कि वह इन सीटों को सपा-बसपा गठबंधन के लिए छोड़ देगी.”

शत्रुघ्न सिन्हा छह अप्रैल को दिल्ली में कांग्रेस में शामिल होंगे और बिहार में पटना साहिब लोकसभा सीट से पार्टी के उम्मीदवार होंगे. राजनाथ सिंह के खिलाफ संयुक्त विपक्षी उम्मीदवार खड़ा करने का उद्देश्य केंद्रीय मंत्री को उनके संसदीय क्षेत्र तक सीमित रखने का है. सपा के सूत्रों ने कहा कि पार्टी ने पहले ही अपना होमवर्क पूरा कर लिया है. सपा के एक नेता ने कहा, “लखनऊ में 3.5 लाख मुस्लिम वोटरों के अलावा, चार लाख कायस्थ मतदाता हैं और 1.3 लाख सिंधी मतदाता हैं. यह उनकी उम्मीदवारी को बड़ी ताकत प्रदान करेगा.”

पूनम सिन्हा सिंधी हैं और उनके पति शत्रुघ्न सिन्हा कायस्थ हैं.भाजपा के महासचिव विजय पाठक ने हालांकि मामले को ज्यादा महत्व नहीं देते हुए कहा, “लखनऊ हमेशा से भाजपा का गढ़ रहा है और हमेशा बना रहेगा. राजनाथ सिंह ने यहां कई विकास कार्य किए हैं और उनका लोगों के साथ अच्छा तालमेल है. बाहर से आई उम्मीदवार ज्यादा मतदाताओं को लुभा नहीं पाएंगी.” राजनाथ सिंह ने 2014 में लखनऊ सीट से कुल 55.7 प्रतिशत मत हासिल किए थे.